सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

November 30, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं
आओ हम भी हाथ बढ़ाएँ 

रवि प्रकाश साहू 
       संपादक 
   वर्तमान विश्व में मानव जनित और भौगोलिक कारणों के चलते इस समय जलवायु अनिश्चित सी हो गयी है. यह अनिश्चितता आने वाले कई सालों तक देखने को मिल सकता है. गर्मियां बढती जा रही हैं और ठण्ड कम होती जा रही है. अलनीनो संकट बना ही रहता है. बरसात समय से पहले दस्तक दे जा रही है और पूर्व तय मानसून के समय सूखे की स्थिति उत्पन्न होती जा रही है. एक तरफ बारिस से बाढ़ की स्थिति बन रही है तो दूसरी तरफ किसान आसमान की तरफ टकटकी लगाये बारिस की बूंदों का इंतजार करता रह जा रहा है और उसकी खेत में खड़ी फसल सूख जा रही है. अगर गौर करे तो यह दिखता है की मौसम में बदलाव का दौर जारी है और निश्चित प्रतिमान सुनिश्चित होने में अभी वक्त लग सकता है.

इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि मानव की बढ़ती महत्वकांक्षा के चलते बढ़ते औद्योगिकरण एवं बढ़ते वाहनों की संख्या से ग्रीन हाऊस गैसों के उत्सर्जन में इजाफा हुआ है. जिससे तापमान वृद्दि और बरसात के दिनों में कमी आई है. हालांकि, जलवायु परिवर्तन से होनेवाले नुकसान पर नियंत्रण के बड़े-बड़े वैश्विक दावे भी किए जा रहे हैं. लेकिन इन सब…
सरयू पुल की दूसरी कोठी में पड़ी दराररविसाहू रघुराजनगर  गोंडा-लखनऊ मुख्य मार्ग पर बने सरयू पुल की कोठियों में दरार पड़ने से यात्रियों के लिए खतरा उत्पन्न हो गया है। जगह-जगह दरार पड़ने से पुल पर उछाल हो गया है। इससे पुल पर वाहनों के चलने से झटके लग रहे हैं, जिससे पुल के क्षतिग्रस्त होने की आशंका बढ़ गई है। 

करनैलगंज से मात्र तीन किलोमीटर दूर लखनऊ रोड स्थित सरयू नदी पर 1960 में पुल का निर्माण हुआ था। 1962 में इस पुल पर आवागमन की शुरुआत हुई थी। 

पुल निर्माण को 55 वर्ष पूरे हो गए हैं। कई वर्षों से पुल की मरम्मत या रंगाई-पुताई तक नहीं हुई। यह पुल करीब चार कोठियों में बना है। 

पुल के भीतर लोहे की रिगें पड़ी हुई हैं जो भारी व लोड वाहन के निकलने पर करीब दो इंच तक दबाव के साथ उछाल लेता है। 

सरयू नदी के बीचोबीच में दूसरी कोठी के जॉइंट में पिछले तीन वर्षों से दरार लगातार बढ़ रही है। पहले यह दरार करीब आधा इंच थी जो बढ़कर अब लगभग तीन इंच हो गई है।

लोगों की मानें तो जैसे-जैसे दरार बढ़ रही है, वैसे-वैसे पुल की उछाल भी बढ़ रही है। मरम्मत के अभाव में पुल की दरार कभी भी खतरे का कारण बन सकती है। 

एसडीएम वीके सि…
कल से मनकापुर चीनी मिल शुरूरविसाहू रघुराजनगर मनकापुर चीनी मिल का पेराई सत्र सोमवार को विविधान से पूजन-अर्चन के बाद प्रारंभ हो गया। मनकापुर चीनी मिल के मुख्य महाप्रबंधक प्रवीण कुमार गुप्त ने डोंगे में गन्ना डालकर चीनी मिल के पेराई सत्र का शुभरंभ किया। गन्ना महाप्रबंधक उमेश सिंह ने बताया कि चीनी मिल की ओर से 110 दिनों में कुल 80 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई का लक्ष्य तय किया गया है।

बलरामपुर ग्रुप की मनकापुर चीनी मिल के पेराई सत्र का शुभारंभ करने से पहले सोमवार को मंदिर प्रांगण में पूजा-अर्चना हुई। इकाई के मुख्य महाप्रबंधक प्रवीण गुप्ता ने हवन-पूजन कर मिल का शुभारंभ किया। 

गन्ना महाप्रबंधक उमेश सिंह विसेन ने बताया कि चीनी मिल ने 110 दिनों की अवधि में 80 लाख कुंतल गन्ने की पेराई का लक्षय तय किया है। 

पेराई सत्र के शुभारम्भ के मौके पर मेहनौन से सपा विधायक नंदिता शुक्ला बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहीं। उन्होंने मुख्य महाप्रबंधक के साथ डोंगे में गन्ना डाल कर पेराई सत्र का शुभारंभ कराया। 

विजयपुर गांव के गन्ना किसान राजकुमार उर्फ जुग्गी लाल ने पहले गन्ना किसान के तौर पर मिल को गन्ने की आपूर्ति की। जिनक…
पीठासीन अधिकारी को एसडीएम ने पीटारविसाहू रघुराजनगर ग्राम पंचायत चुनाव के लिए पोलिंग पार्टियों को रवाना करते वक्त एक पीठासीन अधिकारी की एसडीएम ने पिटाई कर दी। पीठासीन अधिकारी/प्रधानाध्यापक का आरोप है कि वे सिर्फ दूसरे मतदानकर्मी की मांग कर रहे थे, इससे भड़के एसडीएम ने उन्हें खुद मारा व मातहतों से भी पिटवाया। इससे वहां हंगामा खड़ा हो गया। 

पीठासीन अधिकारी के पिटाई के विरोध में शिक्षकों ने कोतवाली नगर पहुंचकर एसडीएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। पीड़ित ने कोतवाली नगर में एसडीएम सदर व उनके साथियों के खिलाफ तहरीर दी है। 

थाना इटियाथोक क्षेत्र के उच्चतर प्राथमिक विद्यालय सोमरही के प्रधानाध्यापक रामसुभाष मिश्र ने बताया कि उनकी झंझरी ब्लाक में पीठासीन अधिकारी के पद पर मंगलवार को होने वाले मतदान में ड्यूटी लगी है। 

वह ड्यूटी पर रवाना होने के लिए शहर के जिगर मेमोरियल इंटर कालेज पहुंचे। वहां उन्हें मतदानकर्मी द्वितीय नहीं मिले। 

पीठासीन अधिकारी मिश्र का आरोप है कि जब उन्होंने एसडीएम से मतदानकर्मी की मांग की तो एसडीएम सदर नरेन्द्र सिंह भड़क गए और अभद्रता करते हुए उन्हें पीटना शुरू कर दिया। एसडीएम ने अ…
बैंक ग्राहकों के लिए मुश्किलों का मंडे, लोग परेशानरविसाहू रघुराज नगर  गोंडा : जिले में बैं¨कग सेवाओं का हाल बुरा है। अव्यवस्थाएं लोगों की उम्मीदों पर भारी पड़ रही हैं। शहर के चंद एटीएम मशीनों को छोड़ दिया जाए तो अधिकांश लोगों को खाली हाथ ही वापस भेजती हैं। यही नहीं, कुछ एटीएम तो लंबे अर्से से खराब चल रहे हैं मगर संबंधित एजेंसियां उनकी तरफ ध्यान नहीं दे रही हैं। इस वजह से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है ।बैंक ऑफ इंडिया में सोमवार को दिन भर कामकाज ठप रहा।
तरबगंज में सामने आया मतदाता सूची का 'खेल'रविसाहू रघुराजनगर  गोंडा: पंचायत चुनाव का असली खेल तरबगंज तहसील में देखने को मिला रहा है। यहां कई गांवों में नामांकन पत्र जमा होने के बाद उम्मीदवार व प्रस्तावक के नाम मतदाता सूची से गायब हो गए। जिससे विकास खंड तरबगंज, बेलसर, वजीरगंज व नवाबगंज की गई ग्राम पंचायतों में निर्विरोध निर्वाचन की संभावना बढ़ गई है। हालात ये रहे कि निर्वाचन अधिकारी बिना जांच का परिणाम चस्पा किए ही ब्लॉकों से गायब हो गए।
दूसरे चरण का आज हो रहा है मतदान रविसाहू रघुराजनगर उत्तरप्रदेश के जिलों  मे कुछ छेत्रों मे आज सुबह 6:30 मिनट से दुशरे चरण का मतदान प्रारम्भ हो गया प्रशासन शांतिपूर्ण ढंग से निर्वाचन करने मे पूरी कोशिस कर रहा है  उपदरव फैलाने वालों पर प्रशासन की कड़ी नजर रखने का आदेश है